गुजरात: दलित युवक की बारात पर पथराव, टोपी पहनने पर हुआ विवाद; 9 गिरफ्तार

पीड़ित पक्ष की तरफ से आरोप लगाया गया है कि आरोपियों ने दुल्हे के परिवार और अन्य लोगों को जान मारने की धमकी भी दी है।

गुजरात के अरावली जिले में टोपी पहनने को लेकर हुए विवाद में कुछ लोगों ने दलित युवक की बारात पर जमकर पथराव किया। घटना को लेकर बताया जा रहा है कि युवक के कुछ रिश्तेदारों ने बारात में पारंपरिक टोपी पहन रखी थी जिससे नाराज कुछ असामाजकि तत्व ने बारात पर पथराव करना शुरू कर दिया। इस मामले में पुलिस के अनुसार अब तक 9 लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है।

बारात जैसे ही शादी के लिए निकली उसके कुछ ही देर बाद पथराव की शुरुआत हो गयी। पुलिस के अनुसार उच्च जाति के 9 लोगों के खिलाफ इस मामले में मामला दर्ज किया गया है। पुलिस ने कहा कि आरोपियों ने बारात में दलित पुरुषों और महिलाओं द्वारा ‘साफा’ पहने जाने को लेकर आपत्ति जताई। जिसके बाद विवाद शुरू हो गया और आरोपियो ने पथराव की शुरुआत कर दी।

दर्ज FIR में कहा गया है कि जब शिकायतकर्ता और परिवार के अन्य सदस्यों ने आरोपियों के साथ इस मुद्दे पर बात करने का प्रयास किया और पथराव रोकने की अपील की तो एक आरोपी ने बारात में शामिल दुल्हन के एक रिश्तेदार पर पर हमला कर दिया।

पीड़ित पक्ष की तरफ से आरोप लगाया गया है कि आरोपियों ने दुल्हे के परिवार और अन्य लोगों को जान मारने की धमकी भी दी है। साथ ही नसीहत भी दी कि शादी के अवसर पर डीजे और संगीत बजाने से परहेज करें। पारंपरिक टोपी पहनने पर अंजाम भुगतने की धमकी दी गयी।

बताते चलें कि इससे पहले साल 2018 में सौराष्ट्र में घोड़ी रखने पर एक दलित युवक की गांव के लोगों ने हत्या कर दी थी। घोड़ी खरीदने के कुछ ही दिनों बाद उसे गांव के दबंग लोगों ने पहले उसे ऐसा करने से मना किया था और बाद में उसकी हत्या कर दी थी।


टिप्पणी पोस्ट करें

आप कोमेंट के जरिये अपना सुजाव और खबर पर अपना विचार हमें भेज सकते हे ताकि हम आप को हर खबर और जानकारी भेज सके|

नया पेज पुराने